5 tips to choose the best eye doctor to get the proper eye examination

Eye Doctoreye hospital

5 tips to choose the best eye doctor to get the proper eye examination

  • July 19, 2021

  • 1069 Views

From head to toe, we need to make sure that everything is healthy and proper. For that, we need to get ourselves checked and if there is any problem then accordingly get the treatment. Here, our focus is on eye care and how we can maintain eye health & good vision. You need to make sure that you visit the best Eye Hospital In Ludhiana like Brar Eye Centre. From the best Eye Specialist to advanced treatment, Brar Eye Centre has availability of everything. In case, you are wondering how to choose the best eye specialist then make sure to take into account the following factors and make the best decision.

Tips to choose the best eye doctor

Tip 1: Spend time on research

Research as much as you can and then understand what is the difference b/w the optometrist & ophthalmologist when you are looking for an eye doctor. By consulting an optometrist will help you get the eye examination on time. In addition, he will prescribe the contact lens and glasses to address the eye issue.

In this case, you need to research online and look for the best eye doctor near you. Make a list of the doctors and see what services they provide. Go through their entire website and then make the final choice.

Tip 2: Take referrals

No matter what type of treatment you are looking for, it is best to get referrals. Be it getting the eyeglass frame or you want to have a regular eye check-up, ask people around you. It is possible that someone must have gotten the eye treatment recently and they would have gotten the best eye treatment. So, make sure to add such names to the list.

Tip 3: Check Credentials

You need to check the eye doctor credentials as it tells you they hold an eye specialty degree. In addition, you can check their work history on their website. Like you need to look at what work they have done in the past, any conference they have attended, or any type of special service which makes them best in their field. In all, you need to choose someone who has the experience to solve your eye problem.

Tip 4: Latest technology & Equipment

Now, when it comes to getting the treatment make sure you are treated with advanced equipment and technology. This way you will get accurate eye testing and doctors will only use the technologies which are effective & efficient. The latest technology makes sure that the eye test results will be the best.

Tip 5: Years of expertise

You should check their website for how long they have been giving their services and whether they have the expertise to address the eye problem you have. If it is not mentioned on the website then ask the doctor when you visit for the face-to-face consultation.

No need to hesitate

For all your eye care needs, you need to be informed and get the treatment from the best. At Brar Eye Centre, we are always available for you and you can rely on us for the latest treatment and best eye services.

Eye Doctoreye problems

मोतियाबंद के बारे में जाने – अर्थ, कारण, लक्षण, रोकथन और इलाज

  • June 30, 2021

  • 1344 Views

आपको तुरंत ही Eye Hospital In Ludhiana के Best Eye Specialist से संपर्क करना चाहिए यदि आप निम्नलिखित किसी समस्या का समन कर रहे है:

  • दूर और पास का देखने में बहुत परेशानी होना
  • गाड़ी चलाने में दिक्कत आना
  • किसी व्यक्ति के चेहरे के भाव न पड़ पाना

यह कारण संकेत करते है की आपको शायद मोतियाबंद की समस्या है|

क्या आप जानते है?

भारत एकमात्र ऐसा देश है जहाँ पर लगभग एक करोड़ बीस लाख से भी ज्यादा लोग नेत्रहीनता से प्रभावित है| यह आंकड़ा कभी भी स्थिर नहीं रहता, अपितु यह निरंतर बढ़ता जा रहा है| एक रिसर्च के अनुसार हर साल करीबन २० लाख मामले केवल मोतियाबंद से पीड़ित लोगों के आते है| ऐसा पाया गया है कि लगभग ६५% लोग ऐसे है जिनकी नेत्रहीनता का कारण मोतियाबंद है|

क्या आप जानते है?

भारत एकमात्र ऐसा देश है जहाँ पर लगभग एक करोड़ बीस लाख से भी ज्यादा लोग नेत्रहीनता से प्रभावित है| यह आंकड़ा कभी भी स्थिर नहीं रहता, अपितु यह निरंतर बढ़ता जा रहा है| एक रिसर्च के अनुसार हर साल करीबन २० लाख मामले केवल मोतियाबंद से पीड़ित लोगों के आते है| ऐसा पाया गया है कि लगभग ६५% लोग ऐसे है जिनकी नेत्रहीनता का कारण मोतियाबंद है|

भारत में किस प्रकार मोतियाबंद के मामलों में गिरावट आई है?

इसका श्रेय केवल और केवल अत्याधुनिक मोतियाबंद की तकनीकों को जाता है जिन्होंने इसे और भी प्रभावी बना दिया है| इसका एकमात्र कारण है लोगों में मोतियाबंद सर्जरी के प्रति जागरूकता|

आखिर मोतियाबंद है क्या?

और भागों की तरह लेंस भी आँख का एक ऐसा भाग है जो की रेटिना पर लाइट को फोकस करने में सहायता करता है| हमारी आँख के पीछे एक बहुत ही संवेदनशील ऊतक है जिसे हम रेटिना कहते है| जब हमारी आंखें नार्मल होती है (यानी इनमे किसी प्रकार की कोई बीमारी नै होती) तो रेटिना को प्रकाश पारदर्शी लेंस से प्राप्त होता है| जैसे ही यह रेटिना तक पहुँचने में सफल हो जाता है, वैसे ही यह प्रकाश, प्रकाश न रह कर नर्व सिग्नल्स में बदल जाता है| यह सिग्नल्स मस्तिष्क की ओर भेजे जाते है|

क्या आप जानते है?

यदि लेंस क्लियर नहीं होगा तो रेटिना शार्प इमेज नहीं प्राप्त कर सकेगी| जैसे ही यह लेंस धुंदला हो जाता है तो लाइट स्पष्ट रूप से लेंस तक पहुँचने में असमर्थ होती है, जिससे आपको भी सब कुछ धुंदला धुंदला दिखने लगता है| और जैसे ही आपकी लेंस और लाइट में धुंदलापन बाधा बन कर उजागर होता है, उसे हम मोतियाबंद या फिर सफ़ेद मोतिया के नाम से जानते है|

किन कारणों की वजह से मोतियाबंद की समस्या उजागर होती है?

मोतियाबंद को प्रभावित करने वाला कारण अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है| परन्तु, कुछ ऐसे फैक्टर्स जरूर है, जो की इस समस्या को बढ़ाने में अपना योगदान डालते है:

बढ़ती उम्र Age
मधुमेह Diabetes
शराब का सेवन वो भी अत्यधिक मात्रा में Excess consumption of alcohol
सूर्य का अत्यधिक एक्सपोज़र Excessive Sun Exposure
मोतियाबिंद का पारिवारिक इतिहास Family History
उच्च रक्तदाब High Blood Pressure
मोटापा Obesity
आंखों में चोट लगना Eye Injury
आँखों की सूजन Eye Swelling
पहले हुई आंखों की सर्जरी Previous Surgical History
कार्टिस्टेरॉइड मोडिकेशन का जरूर से अधिक उपयोग Excessive consumption of corticosteroid medications
धुम्रपान Smoking

लक्षण

मोतियाबंद एकदम से ही विकसित नहीं होता, अपितु धीरे धीरे यह दृष्टि को प्रभावित करता है| लेकिन समय के साथ यह आपकी देखने की क्षमता में असर महसूस करता है| इन कारणों की वजह से व्यक्ति अपनी सामान्य गतिविधियों को भी मुकम्मल करने में समस्या का सामना करता था|

दृष्टि में धुंधलापन Foggy Vision
बुजुर्गों में निकट दृष्टि दोष का निरंतर बढ़ना Progression of nearsightedness among the old age people
रंगों को देखने की क्षमता में बदलाव Changes in the ability to see the colours
रात में ड्राइविंग में दिक्कत आना Difficulty in driving particularly during the night hours
दिन के समय आँखें चैंधियाना Day Time Glare
दोहरी दृष्टि Double Vision
चश्मे के नंबर में अचानक बदलाव आना Sudden changes in the power of the lenses

किस प्रकार से आप मोतियाबंद की समस्या में रोकथाम कर सकते है?

हालाँकि डॉक्टरों के अनुसार ऐसा कोई भी प्रामाणिक तथ्य नहीं है, जिसके द्वारा मोतियाबंद को रोका जा स्का जाये| परन्तु कुछ ऐसी रणनीतियां भी है, जो की मोतियाबंद की रोकथाम में सहायता अधिक सहायता कर सकती है| यदि आप रोकथाम पर आधारित किसी लेख को ढूंढ रहे थे, तो यह निम्नलिखित लेख आपको सही जानकारी अवश्य प्राप्त करेगा:

आँखों की जाँच जब आप चालीस साल या उससे ज्यादा की उम्र के हो जाये, तो ध्यान रखें की आप निरंतर अपनी आँखों का चेक उप करवा रहे है| इससे आपको समय पर ही पता लग जायेगा यदि कोई रोग आपकी आँखों में अपने पैर पसार रहा है|
सूरज की किरणों का अधिक एक्सपोज़र यदि आप कोई ऐसी नौकरी करते है जो की आपको सारा दिन बहार रहने पर मजबूर करती है, तो आपको sunglasses का प्रयोग करना चाहिए| यदि आप उन सनग्लासेस का प्रयोग नहीं करते तो सूरज की नुक्सान पहुँचाने वाली किरणें, मोतियाबंद को बढ़ाने में समर्थन देती है|
डायबिटीज यदि आपको मधुमेह या अन्य कोई दिल से जुडी हुई बिमारी है तो यह जरूरी हो जाता की आप इस समस्या का समाधान या इलाज करवा लें, नहीं तो यह मोतियाबंद और अन्य कई आँखों की समस्या को उजागर करने में योगदान ड़ाल सकती है|
वजन का बढ़ना यदि आपका वजन तेजी से बढ़ रहा है तो यही समय है की आप वजन को नियंत्रित कर लें| यदि आप वजन को नियंत्रित करना चाहते है तो आपको बहुत साडी बातों का ध्यान रखना होगा| सबसे पहले तो यह अनिवार्य है कि आप अपने डाइट चार्ट को मॉडिफाई करें| उसके बाद आप यह तय करें की आपको किस समय कितना खाना है|
धूम्रपान और शराब का सेवन न करें जैसे की हम सब जानते है की अच्छी सेहत के लिए धूमप्रापण और तम्बाकू को छोड़ना अनिवार्य है| धूम्रपान और शराब आपके शरीर में खून का दौरा सही तरह नहीं होने देते| इस लिए यदि आप इन चीज़ों के आदि हो चुके है तो यह आपको तय करना है कि आपको नशा ज्यादा प्यारा है या आपकी आँखें|

उपचार

जब लेंस और चश्मा आपको स्पष्ट देखने में सहायता न कर सकते तो सर्जरी ही एकमात्र ऐसा विकल्प है जिसके द्वारा आप मोतियाबंद जैसी समस्या को दूर क्र सकते है|

ध्यान रखें

जैसे ही आप मोतियाबंद जैसी समस्या का सामना करें, तो सर्जरी के लिए बिलकुल भी जल्दबाजी न करें| अपितु सबसे पहले आप दवाइयों की मदद से इस समस्या का सामना करें| यदि ऐसा नहीं हो पा रहा तो आपको सर्जरी की सहायता लेनी चाहिए| परन्तु यदि आप मधुमेह या किसी अन्य दिल की बिमारी से जूझ रहे है तो यह अनिवार्य है की आप सर्जरी में बिलकुल भी देरी न करें|

सामान्य सर्जिकल प्रक्रिया

सामान्य सर्जिकल प्रोसीजर में डॉक्टर मरीज की आँख में कृत्रिम लेंस को आरोपित करने के लिए प्राकृतिक लेंस को हटा देते है|

क्या आप जानते है?

ऐसे कृत्रिम लेंस को इंट्रा ऑक्युलर लेंस कहते है|

सर्जरी के पश्चात् मरीज बिलकुल सपष्ट देखने में समर्थ होता है|

परन्तु ध्यान रखें

यदि आपको पड़ना है या अन्य कोई काम करना है तो आपको निर्धारित नंबर का चश्मा लगाना ही होगा|

हम कैसे कह सकते है की मोतियाबंद सर्जरी एक रेफ्रेक्टिवे सर्जरी है?

कुछ समय पहले मोतियाबंद सर्जरी को रेस्टोरेटिवे सर्जरी कहा जाता था, परन्तु जैसे ही इस सर्जरी को मॉडिफाई किया गया वैसे ही इस सर्जरी ने करिश्मा दिखाया| न केवल यह मोतियाबंद को समाप्त करती है, अपितु धीरे धीरे चश्मे पर से आपकी निर्भरता भी बिलकुल खत्म क्र देती है|

यदि आप भी मोतियाबंद जैसी समस्या से परेशान है, तो कृपया हमे संपर्क करें| हमारे डॉक्टर्स आपको अच्छी सलाह के साथ सही इलाज भी बताएंगे|

तो किसकी प्रतीक्षा कर रहे है? अपनी अप्पोइटमेंट बुक करवाइये!

Blurry VisionEye Doctoreye hospitaleye problems

Blurry Vision: What are its symptoms and causes?

  • February 4, 2021

  • 6007 Views

What is the blurry vision?

Blurry vision is referred to as eyesight sharpness gets less which makes the objects hazy and out of focus. Some of the primary causes of blurred vision are:

  • Astigmatism
  • Farsightedness
  • Nearsightedness
  • Presbyopia

Blurry vision can be a symptom of a serious health issue, therefore you must visit the best eye hospital in Ludhiana.

What are the causes and treatment of blurry vision?

  • Hyperopia

It is due to farsightedness when the object is present at a distance and the eye is not able to focus on it. If you try to see it then it puts strain and fatigue on it.

Treatment

This problem can be corrected through contact lenses, refractive eye surgery, or eyeglasses.

  • Myopia

Blurry vision in one or both eyes is due to nearsightedness. The problem is likely to occur with headaches and eye strain. Myopia is the most common refractive error and causes objects which are in distance blur.

Treatment

Contact lenses, eyeglasses, and refractive surgery such as PRK and LASIK are the ideal way to correct this issue.

  • Astigmatism

Blurred vision at all distances is often the symptom of astigmatism. It is the refractive error that occurs when the cornea shape is not normal. With this condition, the light is not able to focus on one point and the vision is not clear.

Treatment

To correct this condition, the farsightedness and nearsightedness can be corrected with refractive surgery, contact lenses, and eyeglasses.

  • Chronic eye disease

It is also referred to as dry eye syndrome which affects the eyes in different ways and the vision gets fluctuated and blurred. Artificial tears might be helpful in this condition and if the condition is severe then you need to get prescription medicine to make it healthy and lubricated.

  • Pregnancy

Pregnant women deal with blurry vision and sometimes the problem comes with double vision. Thickness and cornea shape will change due to hormonal changes and make the vision blur. Make sure to inform the doctor about any vision disturbances you are noticing. Blurry vision is not always serious but making your doctor aware of it will be the best choice.

  • Eye floaters

Vision can get affected due to floaters or temporary spots that affect the vision area. However, it is considered a normal part of aging. In case you notice it suddenly then make sure to inform the doctor about the same to get the treatment on time.

  • Wearing contact lenses for a long time

If you wear disposable contact lenses for a long time then you are likely to suffer from serious issues. There will be tear build-up in the film as you wear the lens. The problem can result in increased chances of eye infection and blurry vision.

In case you notice minor blurring, then it is likely due to tiredness or getting yourself exposed to sunlight or eye strain. Nevertheless, if you are noticing the changes frequently then it is a possible sign that you are facing a health issue.